Biography

एपीजे अब्दुल कलाम (missile man) जीवनी | Apj Abdul Kalam biography in hindi

APJ Abdul Kalam Jivan Parichay

Rate this post

अगर आप भी भारत को nuclear पावर बनाने वाले भारत के पूर्व प्रसिद्ध साइंटिस्ट और राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन से संबंधित कुछ रोचक बातें जानना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपके बहुत काम के लिए है, क्योंकि आज हम इस आर्टिकल में एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन परिचय के बारे में जाने वाले हैं और आपको बताने वाले हैं कि उन्होंने अपने साइंटिस्ट से लेकर एक भारत के प्रसिद्ध राष्ट्रपति तक का सफर कैसे किया। और उन्होंने अपने जीवन काल में भारत को एक nuclear पावर संपन्न देश कैसे बनाया। तो चलिए जानते एपीजे अब्दुल कलाम ( APJ Abdul Kalam Jivan Parichay) के जीवन के बारे में।

APJ Abdul Kalam file photo

उससे पहले आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एपीजे अब्दुल कलाम ने चार दशकों तक वैज्ञानिक के रूप में काम करने के बाद राष्ट्रपति बने थे, उनका कार्यकाल का समय  2002-07 था, और उन्होंने बहुत ही गोपनीय तरीके से भारत को एक न्यूक्लियर संपन्न देश बनाया था।

Full Name : एपीजे अब्दुल कलाम
Date of Birth : 15 अक्टूबर, 1931
Birthplace : धनुषकोडी गांव, रामेश्वरम, तमिलनाडु
Father’s Name : जैनुलाब्दीन
Mother’s Name : असिंमा
Famous As : राष्ट्रपति (2002 से 2007 तक), के॰ आर॰ नारायणन (पूर्व अधिकारी)
Education : स्नातक
म्रत्यु : 27 जुलाई 2015 (83 वर्ष)
Nationality : भारतीय
Education : सेंट जोसेफ कॉलेज, तिरुचिरापल्ली
मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी
Religion : मुस्लिम

Apj Abdul Kalam biography : भारत को न्यूक्लियर संपन्न देश बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले भारत के पूर्व साइंटिस्ट, मिसाइल मैन एपीजे अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर सन 1931 को धनुषकोडी गांव, रामेश्वरम, तमिलनाडु मे एक मध्यम वर्गीय मुस्लिम परिवार में हुआ है, वह भारत के ग्यारहवें और पहले गैर-राजनीतिज्ञ राष्ट्रपति थे, और इसके अलावा वह भारत के प्रसिद्ध वैज्ञानिकों में से एक थे। अब्दुल कलाम ने भारत को न्यूक्लियर संपन्न देश बनाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाया था और उन्हीं के वजह से आज हमारा भारत देश एक न्यूक्लियर संपन्न देश है।
इसके अलावा भी राष्ट्रपति रहते हुए उन्होंने भारत के हित के लिए कई कदम उठाए, जिसकी वजह से वह आज ही नहीं बल्कि उस समय भी भारत के देशवासियों के दिल में बहुत ही सम्मानित व्यक्तियों में से एक थे।

एपीजे अब्दुल कलाम (APJ Abdul Kalam family) परिवार & निजी जीवन।

एपीजे अब्दुल कलाम (APJ Abdul Kalam) के माता का नाम असिंमा है, और वह गृहनी थी वहीं उनके पिता का नाम जैनुलाब्दीन था, जो की एक नाव संचालक थे जो की मछुआरों को देकर घर चलाते थे। वहीं उनके परिवार मे कलाम जी के अलावा 3 बड़े भाई व् 1 बड़ी बहन थी।

अब्दुल कलाम शैक्षिक जीवन (Apj Abdul Kalam Education)

वहीं अगर अब्दुल कलाम की शिक्षा दीक्षा के बारे में बात किया जाए तो उन्होंने अपने शुरुआती पढ़ाई रामेश्वरम एलेमेंट्री स्कूल से हुई थी, उसके बाद st. Joseph’s college से बी एस सी की परीक्षा पूरी की, इसके बाद सन 1954-57 में मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (MIT Institutes) से एरोनिटिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया तक की पढ़ाई पूरी की।

कलाम जी के वैज्ञानिक करियर (APJ Abdul Kalam scientists career)

वहीं अगर कलाम के वैज्ञानिक की करियर की ओर रुख किया जाए तो उन्हें सन 1958 में D.T.D. and P. में तकनिकी केंद्र में वरिष्ट वैज्ञानिक के रूप कार्य करने लगे थे। उसके बाद उन्होंने अपनी करियर की शुरुवात में ही भारतीय फौज के लिए एक छोटा हेलीकाप्टर डिजाईन किया, और उसके बाद सन 1962 से लेकर 1982 तक अन्तरिक्ष अनुसन्धान में कार्य किया। और इसी कार्यकाल के दौरान उन्हें साल 1969 में Indian Space Research Organisation (ISRO) के पहले SLV-3 (Rohini) प्रोजेक्ट हेड बने थे।

और उसके बाद उनकी वैज्ञानिक की कैरियर में हीं साल 1998 में उन्हीं की देखरेख में भारत ने पोखरण में अपना दूसरा सफल परमाणु परीक्षण किया था, और जिसके बाद भारत एक सम्पूर्ण परमाणु शक्ति संपन्न देशों की सूची में शामिल हुआ था।

अब्दुल कलाम जी राष्ट्रपति करियर (APJ Abdul Kalam President Life)

वहीं अगर उनकी राष्ट्रपति कैरियर के बारे में बात किया जाए तो वह भारत के ग्यारहों राष्ट्रपति बने थे, और उन्हें सन 2002 में भारतीय जनता पार्टी समर्थित एन॰डी॰ए॰ घटक दलों के द्वारा राष्ट्रपति के चुनाव के समय उम्मीदवार बनाया था, और उसके बाद उनके समर्थन मे सभी पार्टियाँ कड़ी हो गई, और फिर 18 जुलाई 2002 को उन्हें ग्यारहों राष्ट्रपति पद की शपत ली। और उनका कार्यकाल का समय 2002-07 था, और इस 5 साल कार्यकाल के दौरान उन्होंने भारत के हित के लिए कई अहम कदम उठाए।

एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन से संबंधित कुछ रोचक बातें।

  • 15 अक्टूबर 1931 के तमिलनाडु के रामेश्वरम में जन्मे भारतरत्न राष्ट्रपति डॉ. कलाम का पूरा नाम अबुल जाकिर जैनुल आब्दीन अब्दुल कलाम था।
  • कलाम जी (APJ Abdul Kalam) भारत के पहले ऐसे राष्ट्रपति हैं, जो अविवाहित होने के साथ-साथ बहुत हीं पढ़े लिखें वैज्ञानिक भी थे।
  • साल 1998 में उन्हीं की देखरेख में भारत एक परमाणु शक्ति संपन्न देशों की सूची में शामिल हुआ था।
  • साल 1980 में कलाम ने रोहिणी उपग्रह को पृथ्वी की कक्षा के निकट स्थापित करने में बड़ी अहम भूमिका निभाई थी, और  जुलाई 1992 से दिसंबर 1999 तक वे रक्षा विज्ञान सलाहकर और सुरक्षा शोध और विकास विभाग के सलाहकार रहे थे।
  • राष्ट्रपति के अलावा वह एक प्रसिद्ध कवि, शिक्षक, लेखक और वैज्ञानिक सहित आध्यात्मिक गुण विद्यमान थे।

एपीजे अब्दुल कलाम के द्वारा लिखे गए बुक्स (APJ Abdul Kalam books)

अब्दुल कलाम ने अपने निजी जीवन में कई किताबों की रचना किया है जिनमें से कुछ किताबों का नाम नीचे दिया गया है। तो चलिए जानते हैं पी जे अब्दुल कलाम (APJ Abdul Kalam books) के कुछ किताबों के बारे में।

  • इंडिया 2020 – ए विशन फॉर दी न्यू मिलेनियम
  • विंग्स ऑफ़ फायर – ऑटोबायोग्राफी
  • इग्नाइटेड माइंड
  • ए मेनिफेस्टो फॉर चेंज
  • मिशन इंडिया
  • इन्सपारिंग थोट
  • माय जर्नी
  • एडवांटेज इंडिया
  • यू आर बोर्न टू ब्लॉसम
  • दी लुमीनस स्पार्क
  • रेइगनिटेड

APJ Abdul Kalam Awards & Achievements

एपीजे अब्दुल कलाम को उनके योगदान के लिए उन्हें कई अवार्ड से सम्मानित किया गया है जिनमें से कुछ अवार्ड का नाम नीचे दिया गया है।

  1. पद्म भूषण (1981)
  2. पद्म विभूषण (1990)
  3. भारत रत्न (1997)
  4. इंदिरा गाँधी अवार्ड (1997)

एपीजे अब्दुल कलाम ( APJ Abdul Kalam death) की मृत्यु।

मिसाइल मैन के नाम से प्रसिद्ध अब्दुल कलाम की मृत्यु साल 2015 में हुई है जब वह आईआईएम शिलांग में एक फंक्शन के दौरान गए हुए थे तब उनका अचानक से तबीयत खराब हो गया और उन्हें वही नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, और वहीं उन्होंने अपनी अंतिम साँसे ली और दुनिया को अलविदा कह दिया, और उस समय उनकी उम्र 84 साल था।

Bihar Feed Team

Biharfeed is dedicated to all those people who always want to be updated with Biography, Business Ideas, Entertainment, famous places to visit, And government scheme.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button