business

मछली पालन (Fish Farming Business) का व्यपार कैसे शुरू करें 2022 | fish farming ki puri jankari hindi me

Fish Farming Business Plan in Hindi

Rate this post

अगर आप भी खाद्य पदार्थ से सम्बन्धित बिजनेस करने के लिए सोच रहे हैं तो ऐसे मे मछली पालन का बिजनेस आपके लिए एक बेहतर ऑप्शन हो सकता है, और जैसा कि आप सब भी जानते हैं कि आज कल मछली का सेवन लगभग मे हर कोई करता है, और कुछ लोग तो इसका सेवन केवल प्रोटीन को लेने के लिए करते हैं। तो ऐसे मे अगर आप इस मछली पालन का व्यपार शुरू करते हैं तो यह आपके लिए काफी फायदेमंद शाबित हो सकता है। और इस मछली पालन के बिजनेस शुरू करने के लिए आपको करोड़ो ख़र्च भी करने कि जरूरत नहीं है। आप इस बिजनेस को केवल बहुत हीं कम लागत मे आसानी से शुरू कर सकते हैं। तो अगर आपको भी मछली पालन के बिजनेस से सम्बन्धित कोई भी जानकारी चाहिए तो आप इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़ सकते हैं, और मछली पालन के व्यपार (fish farming business plan Hindi) से सम्बन्धित सभी जानकारी हासिल कर सकते हैं।

वहीं आपकी जानकारी के लिए बता दे कि अगर फिश फार्म बिजनेस को शुरू करने के लिए आपके पास जल निकाय नहीं है, तो आप इस बिजनेस को घर पर हीं विभिन्न प्रकार की श्रोत का निर्माण करके मछली पालन (machhali palan kaise karen) शुरू कर सकते हैं। लेकिन इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपके पास कुछ जमीन का होना अति आवश्यक है।और जैसा कि आपने भी देखा होगा कि लोग आम तौर पर इस उद्योग में तालाब या टैंक या अन्य कोई पानी जमा करने के श्रोत का उपयोग करते हैं, और यह सबसे लोकप्रिय और आसान विकल्प होता है। इस मछली पालन के बिजनेस को शुरू करने के लिए।

Fish Farming business 2022

वहीं अगर इसके अलावा अगर आपके पास मछली पालन के बिजनेस से संबंधित कोई भी जानकारी कोई भी योजना नहीं है तो आपको सबसे पहले से इससे संबंधित सभी जानकारी को जुटाना होगा। जैसे कि कौन से प्रजापति के मछली का पालन करना चाहिए, मछली के खाने के उचित व्यवस्था से सम्बन्धित जानकारी और साथ मे इस बिजनेस (Fish Farming Business Plan in Hindi) को शुरू करने से पहले जरूरी लाइसेंस के बारे में जानकारी जुटाना अति आवश्यक होता है।

फिश फार्मिंग (machhali palan kaise hota hai) बिजनेस क्या है?

अगर आपको भी फिश फार्मिंग बिजनेस के बारे में कोई भी जानकारी नहीं है तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फिश फार्मिंग (machhali palan kaise hota hai) का बिजनेस के तहत मछलियों को और उनसे होने वाले मछली के बच्चों को पाला जाता है, और फिर कुछ बड़ा होने के बाद उसे मार्केट में ले जाकर के सेल कर दिया जाता है। और इसी को फिश फार्मिंग बिजनेस कहा जाता है।

आज से कुछ सालों पहले तक यह बिजनेस उतना पॉपुलर नहीं था क्योंकि उस समय लोग मछलियों को समुंदर से या कोई अन्य तलाब, नदी से पकड़ते थे और जाकर फिर मार्केट में सेल करते थे। लेकिन अब लोगों ने कृत्रिम रूप से तालाब या टैंकों का निर्माण करके मछली पालन शुरू कर दिया है। और इसी को मछली पालन का बिजनेस कहते हैं।

मछली पालन का मार्केट डिमांड

अगर आपके मन मे भी मछली पालन के मार्केट मे डिमांड से सम्बन्धित कोई सवाल आ रहा है तो आपकी जानकारी के लिए बता दे की मछलियों की मांग दिनों दिन केवल बढ़ती हीं जा रही है, और इसका डिमांड न केवल हमारे देश बल्कि पुरे विश्व मे तेज से मछलियों की मांग बढ़ती जा रही है। और इसके पीछे का मुख्य वजह इसमें मौजूदा कई प्रोटीन एवं विटामिन्स के स्रोतों का होना है। इसलिए अब तो कुछ लोग अपने स्वास्थ्य को ध्यान में रखने के लिए भी मछली का सेवन करने लगे हैं। तो ऐसी परिस्थिति में आपको मछली पालन के मार्केट में डिमांड से संबंधित कोई भी चिंता करने वाली बात नहीं है। और इसका डिमांड मार्केट में कभी भी कम नहीं होने वाला है।

मछली पालन (Fish Farming cost 2022) के बिजनेस मे लागत

वहीं अगर मछली पालन के बिजनेस (fish farming ki cost) शुरू करने में लगने वाले लागत के बारे में बात किया जाए तो आप इस बिजनेस को 80 हज़ार से लेकर 2 लाख के बीच में आसानी से शुरू कर सकते हैं। और इसमें मुख्य लागत आपको कृत्रिम रूप से तालाब या टैंकों का निर्माण करने मे आने वाला है, और इस बिजनेस के बाकी के कामों के लिए आपको उतना ज्यादा पैसे खर्च करने की जरूरत नहीं होता है।

और यह लागत केवल आपको एक बार लगाना होता है और उसके बाद आपको कुछ छोटे-मोटे कामों के लिए पैसा खर्च करने की जरूरत होता है, और फिर आप इस बिजनेस से 10 गुना से भी ज्यादा के लाभ आसानी से केवल कुछ महीनों मे कमा सकते हैं।

मछली पालन (Machhali Palan ki Vyapar Kaise Shuru Karen) का व्यपार शुरू करने के तरीके।

तो अगर आप भी मछली पालन (machhali palan ke tarike) का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए कुछ स्टेट को फॉलो करके आसानी से इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं।

जानकारी जुटाना : किसी भी बिजनेस (machhali palan business) को शुरू करने से पहले आपको से संबंधित जानकारी जुटाना अति आवश्यक होता है तो ऐसी स्थिति में आपको मछली पालन के बिजनेस शुरू करने से पहले इससे संबंधित सभी जानकारी को जुटाना होगा।

जगह का चयन : इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको वातावरण के अनुकूल स्थान का चयन करना होगा । और इसके लिए आपको एक ऐसी जगह का चयन करना है जहां का वातावरण ज्यादा ठंडा भी नहीं होना चाहिए और ना ही ज्यादा गर्मी। क्योंकि ठंडे इलाकों में मछली का आकार धीमी गति से बढ़ता है, और ज़्यदा गर्मी से आपके द्वारा निर्माण किये गए तालाब और टैंक का पानी सुख सकता है, और जिससे कि आपकी सारी मछलियां मर सकती हैं। इसीलिए आपको इस बिजनेस के लिए एक सही जगह का चयन करना अति आवश्यक होता है।

कृत्रिम रूप से तालाब या टैंकों का निर्माण : और जब आप एक सही जगह का सिलेक्शन कर लेते हैं तो उसके बाद आप को कृत्रिम रूप से तलाब या टैंक का निर्माण करने की जरूरत होता है जहां आप मछली का पालन पोषण और उनके देख रेख को कर सकते हैं।

मछलियों की प्रजातियां का चयन : इस बिजनेस के सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा मे से एक मछलियों की प्रजातियां का चयन होता है तो ऐसे मैं आपको मछलियों के प्रजाति का चयन करने में बहुत ध्यान देने की जरूरत है। इसलिए इसका चयन करने से पहले आप अपने आसपास के मार्केट में देख ले कि कौन से मछलियों के प्रजाति का यहां बिजनेस होता है उसी हिसाब से वहां अपने मछली की प्रजातियों का चयन करें।

List of edible fish species : वहीं अगर अगर आपको खाए जाने वाले मछली के प्रजातियों के बारे में नहीं पता है तो आपकी जानकारी के लिए बता दें की Sable fish, Sardines, Salmon fish, Trout fish, Tuna, Pollock, Mackerel fish, Herring fish का सेवन ज्यादा तर लोगो द्वारा किया जता है, और इन्हीं प्रजातियों के मछली आपको ज्यादा बाजार में देखने को मिलेंगे।

मछलियों के खाने : वहीं अगर आप आप अपने इस मछली पालन के बिजनेस को जल्द ग्रो करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको मछलियों के आवश्यक खाने का इंतजाम अच्छे डंग से करना चाहिए। और उनके भोजन मछलियों के लिए अनुकूल होना चाहिए।

उदाहरण के लिए कुछ मछलियाँ शाकाहारी होती हैं, कुछ सर्वाहारी, कुछ मछलियाँ सिर्फ शैवाल खाती हैं, कुछ झींगे आदि खाती हैं| लेकिन ज़्यादातर मछलियाँ सर्वाहारी ही होती हैं, यानी वो शाकाहारी और माँसाहारी दोनों तरह के भोजन ग्रहण कर लेती हैं। इसलिए आपको मछलियों के भोजन का खास ध्यान रखने की जरूरत होता है।

मछलियों का रख रखाव : उसके बाद आपको मछलियों के रखरखाव के लिए कुछ वर्कर की आवश्यकता होगी जो कि मछलियों को सही समय पर उनकी भोजन का प्रबंध कर सकें, और साथ मे पानी मे होने वाली बदलाव कि देख रेख कर सकें।

इस तरह आप ऊपर दिए गए केवल इन कुछ स्टेट को फॉलो करके आसानी से मछली पालन (machhali palan ke business) के बिजनेस को शुरू कर सकते हैं और अच्छा खासा प्रॉफिट कमा सकते हैं।

मछली पालन बिजनेस को ग्रो जल्दी कैसे करें।

अगर आपको भी मछली पालन बिजनेस को जल्द से जल्द ग्रो करना है तो इसके लिए आपको निचे दिये गए निम्नलिखित प्रोसेस को फ़ॉलो करना होगा। उसके बाद आप आसानी से अपने मछली पालन बिजनेस को ग्रो कर पाएंगे।

  1. सबसे पहले आपको मार्केट में जाकर के पता करना है कि किन प्र जातियों के मछलीयों की मार्केट में सबसे ज्यादा डिमांड है आपको ही उन्हीं मछलियों का पालन शुरू करना है।
  2. आपको अपनी मछली फार्म बिजनेस से संबंधित सभी जानकारी को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर साझा करते रहना है जिससे कि आपके बिजनेस की जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंच सके। क्योंकि आपको भी पता है कि आजकल सोशल मीडिया का उपयोग लगभग में सभी लोग करते है।
  3. इसके अलावा आपको मछली पालन का बिजनेस बड़ी अस्तर पर शुरू करना है जिससे कि आप मछलीयों का होलसेल भी करना है, और साथ में आपको निजी मार्केट में खुर्दरा सेल करना है। ऐसा करने से आप ज्यादा मात्रा में मछलियों को सेल कर पाएंगे।
  4. वही इसके अलावा आप चाहे तो निजी मार्केट में जिन मछलियों का प्राइस ज्यादा है उनको आप उनसे कम प्राइस में शुरुआती दिनों में सेल कर सकते हैं। जिससे कि लोगों का अट्रैक्शन आपके प्रति ज्यादा होगा।

इस तरह अगर आप ऊपर दिए गए इन कुछ स्टेप्स को फॉलो करते हैं तो आप आसानी से अपने मछली व्यापार को जल्द से जल्द को ग्रो कर पाएंगे।

निष्कर्ष

आशा करता हूं कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको मछली पालन के बिजनेस शुरू करने में बहुत मदद मिलेगा बाकि किसी अन्य बिजनेस संबंधित सहायता के लिए या कोई जानकारी के लिए नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करना ना भूले। धन्यवाद 🙏🙏

Bihar Feed Team

Biharfeed is dedicated to all those people who always want to be updated with Biography, Business Ideas, Entertainment, famous places to visit, And government scheme.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button