Education

हिंदी वर्णमाला (Hindi Varnamala) स्वर, व्यंजन और प्रकार की समुचित जानकारी।

Rate this post

Hindi Varnamala 2022 : अगर आप भी भारत के निवासी हैं तो ऐसे में आपको पता होगा कि हिंदी भाषा भारत की राष्ट्रीय और राज्य भाषा है, और हिंदी भाषा को सीखने समझने आदि के लिए इसकी वर्णमाला को जानना बहुत जरूरी होता है क्योंकि हिंदी वर्णमाला (varnamala in hindi) के जानकारी के बिना आप हिंदी भाषा को नहीं सीख सकते हैं और ना ही अच्छे से समझ सकते हैं।
तो ऐसे में अगर आप भी हिंदी वर्णमाला के स्वर, व्यंजन और प्रकार इत्यादि के बारे में समुद्र जानकारी चाहते हैं तो आप इस आर्टिकल को कंटिन्यू कर सकते हैं क्योंकि आज हम इस आर्टिकल में हिंदी वर्णमाला से संबंधित सभी जानकारी साझा करने वाले हैं।

उससे पहले आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हिंदी भाषा को सीखना बाकी भाषाओं से काफी सरल होता है आप इसके हिंदी वर्णमाला की जानकारी अच्छे से रख कर आप इस भाषा को आसानी से सीख और पढ़ सकते हैं। तो चलिए जानते हैं हिंदी वर्णमाला के बारे में।

हिंदी वर्णमाला (hindi varnamala) क्या होता है?

अगर आप भी हिंदी वर्णमाला के बारे में कुछ भी जानकारी नहीं रखते हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हिंदी भाषा में समस्त वर्णों के क्रमबद्ध और व्यवस्थित रूप को ही हिंदी वर्णमाला कहते हैं और इसके अंदर 44 अक्षर होते हैं जिसमें 11 स्वर एवं 33 व्यंजन होते हैं।

हिंदी वर्णमाला में स्वर (Hindi swar) क्या होता है?

वहीं अगर हिंदी वर्णमाला के 11 स्वर के बारे में बात करें तो इसके अंदर अ, आ, इ, ई,उ, ऊ ऋ ए ऐ ओ और इत्यादि आते हैं इसके अंदर लृ और आदि को शामिल नहीं किया गया है।

हिंदी वर्णमाला में व्यंजन (Hindi Vyanjan) क्या होता है?

वहीं अगर हिंदी वर्णमाला में उपलब्धि 33 व्यंजनों की बात करें तो इसके अंदर क, ख, ग, घ, , च, छ, ज, झ, ,ट, ठ, ड, ढ़, ण, त, थ, द, ध, न, प, फ, ब, म, य, र, ल, व, श, ष, स, ह आदि आते हैं। इसके अलावा 4 व्यंजनों को संयुक्त व्यंजन कहते हैं जिसके अंदर क्ष, त्र, ज्ञ, श्र आते हैं।

नो : आप हिंदी वर्णमाला को 2 तरीके से सब सीख सकते हैं पहला तरीका हिंदी वर्णमाला चार्ट (Hindi Varnamala chart) और दूसरा तरीका का है इसका लिखत परिभाषा।

वर्ण किसे कहते हैं, और इसकी परिभाषा।

Varn Ki Paribhasha : जो हिंदी भाषा हम बोलते हैं उसके सबसे छोटी इकाई या रूप को हम वर्ण कहते हैं, यानी कि मूल ध्वनि का वह रूप जिसके की टुकड़े नहीं हो सकते हैं उसे वर्ण की कैटेगरी में रखा जाता है।
उदाहरण के लिए जैसे कि हम कोई भी ध्वनि को बोलते हैं तो वह कई वर्णो से मिलकर बना होता है जैसे की ‘अकार‘ शब्द जो है वह अ का और र से मिलकर बना है।

वर्ण कितने प्रकार के होते हैं?

  • स्वर
  • व्यंजन

स्वर (Swar Kise Kahate Hain) किसे कहते हैं?

हिंदी भाषा में स्वर वर्ण उन वर्णों को कहा जाता है जिनका उच्चारण बिना जीभ और होंठ के स्पर्श के हो जाता है उसे स्वर वर्ण कहा जाता है। उदाहरण के लिए अ, आ, इ, ई,उ, ऊ ऋ ए ऐ ओ और औ होते है।

स्वर के प्रकार : हिंदी भाषा के स्वर वर्ण के मुख्यतः तीन प्रकार होते हैं जिनमें ह्रदय स्वर, गुरु स्वर और प्लुत स्वर आते हैं।

ह्रदय स्वर : इस हृदय स्वर के अंतर्गत मुख्य रूप से चार वर्ण आते हैं जो कि अ, ई, उ और होते हैं।

गुरु स्वर : इस गुरु स्वर वर्ण के अंतर्गत स्वर वर्ण के मुख्यता 6 वर्ण आते हैं जो कि आ, ई, ऊ, ए ओ और होते हैं।

प्लुत स्वर : जीन स्वर वर्णों के उच्चारण में दीर्घ स्वरों से 2 गुना या 3 गुना का समय लगता हो या जिन्हे खींचकर उच्चारित किया जाता हो उसे प्लुत स्वर कहा जाता है।

व्यंजन (vyanjan kise kahate hain) किसे कहते हैं?

हिंदी भाषा में व्यंजन वर्ण उन वर्णों को कहा जाता है जिनका की उच्चारण में स्वरों का उपयोग किया जाता है, या जिन वर्णों की उच्चारण स्वरों की सहायता से होती है उसे हम व्यंजन वर्ण कहते हैं। और जब आप व्यंजन वर्ण का उच्चारण करते हैं तो उस समय हवा हमारे मुंह में कहीं ना कहीं रुक जाता है और इसके बाद निकलता है।

व्यंजन वर्ण के अंतर्गत “क, ख, ग, घ, , च, छ, ज, झ, ,ट, ठ, ड, ढ़, ण, त, थ, द, ध, न, प, फ, ब, म, य, र, ल, व, श, ष, स, ह” तक आते है जो की कुल संख्या मे 33 होते हैं।

Hindi Varnamala chart : वहीं अगर आप हिंदी वर्णमाला को चार्ट की सहायता से समझना चाहते हैं तो इसके लिए आप नीचे दिए गए चार्ट के मदद से आसानी से समझ सकते हैं।

अगर आप ऊपर दिए गए इन हिंदी वर्णमाला (Hindi varnamala) को अच्छे से याद कर लेंगे तो आप आसानी से हिंदी भाषा को सीखो और समझ लेंगे। और हिंदी भाषा को सीखने के लिए आपको ऊपर दिए गए निम्नलिखित वर्णमाला को जरूर सीखना होगा। उसके बाद ही आप इस भाषा को सीख सकेंगे।

Bihar Feed Team

Biharfeed is dedicated to all those people who always want to be updated with Biography, Business Ideas, Entertainment, famous places to visit, And government scheme.

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button